What is ssl certificate और Secure Website कैसे पहचाने

What is ssl certificate और Secure Website कैसे पहचाने

What is ssl certificate : आज हम आप वैबसाइट के Secure और Unsecured के बारे मे बात करने वाले है इसके साथ ही हम जानेगे कौन सी website secure है और कौन Un secure  इसके साथ वैबसाइट क्या होता है ।

इसके बारे मे भी आगे बात करेगे । लेकिन आप यह आर्टिक्ल पढ़ रहे इसका मतलब आप कोई वैबसाइट बनाए है या आप के अन्दर एक जिज्ञासा है की website secure और Un Secure का क्या मतलब है और http और https मे क्या अंतर होता है ।

आज इन सभी Point पर आप को जानकारी साझा करने वाला हु जिससे आप जान पाएगे और इसका सही से उपयोग कर पाएगे तो चलिए आर्टिक्ल को आगे बढ़ाते हुये इसके बारे मे विस्तार से बताते है ।

What is SSL Certificate and  Secure Website

आप को बता दे SSL Certificate उन लोगो को आवश्यकता होता है जो लोग वैबसाइट को होस्ट करते है । और SSL Certificate उनके लिए जरूरी है जो एक वैबसाइट को होस्ट करते है ।

Secure Website के बारे मे बात करे तो इसका मतलब है की जिस वैबसाइट पर हम Visit कर रहे क्या वो वैबसाइट पर जाना सुरशित है या नही । यहा सुरशित का मतलब है अगर आप कोई भी अपनी जानकारी उस website enter कर रहे है ,तो क्या वो केवल उस वैबसाइट के पास जा रहा है या कोई और उसमे सेध मारी कर रहा है ।

What is SSL Certificate
What is SSL Certificate and secure website 

SSL Certificate और secure Website की दूसरे शब्दो मे विश्लेषण करे तो इसका मतलब होता है SSL Certificate के माध्यम से ही website को Secure किया जाता है ।

यही हम कह सकते है जो वैबसाइट Secure नही इसका मतलब उस वैबसाइट के पास SSL Certificate नही है जो website को Secure रखता है ।

HTTP और HTTPS क्या है और दोनों अंतर

HTTP की बात करे तो इसका Full Form होता है  Hypertext Transfer Protocol इसका मतलब होता है आप इसके जरिये वर्ड वाइड वेब डाटा को संचार करना बोले तो ऑनलाइन डाटा को एक्सेस करना । लेकिन ये Secure नही बल्कि Un secure होता है ।

HTTPS की बात करे तो Hypertext Transfer Protocol Secure इसका मतलब मतलब है जो डाटा आप Http के जरिये एक्सेस कर रहे उस डाटा को सर्वर और User के बीच डाटा को एन्क्रिप्शन करता है, जो डेटा की छेड़छाड़, सूचनाओं की छेड़छाड़ और डेटा की छेड़छाड़ से बचाता है। 

इसका मतलब अगर आप HTTP के जरिये आप किसी Data को एक्सेस कर रहे इसका मतलब आप के और Server के बीच कोई दूसरा आपे डाटा से छेदछाड़ कर सकता है । इस प्रकार से आपका डाटा हैक होता है ।

तो अगर आप किसी वैबसाइट पर विजिट कर रहे है तो ध्यान रहे की क्या वो वैबसाइट https प्रदान कर रही है या नही । अगर Https प्रदान नही कर रही तो उस website पर जाने से बचे ।

Note: अगर आप कोई अपनी निजी जानकारी या payment किसी website पर कर रहे है तो ध्यान रहे की क्या वो वैबसाइट Secure है नही अगर Secure नही है तो आप वाहा से कोई भी payment जैसा काम ना करे । नही तो आप को नुकसान हो सकता है ।

ऊमीद करता हु Secure website और SSL Certificate http और https के बारे मे आप समझ गए होगे । यहा तक की जानकारी उनके लिए है जो एक मात्र विजिटर है । और उनको ये जानना चाहिए ।

इसे भी पढे 

Heart attack, Heart failure और Cardiac Arrest करे बारे मे हिन्दी मे जाने 

Mensuration Cycle और female Reproductive System के बारे मे हिन्दी मे जाने 

लेकिन अगर आगे उन लोगो की बात करे तो एक website को होस्ट करते है या बोले तो चलाते है । उपरोक्त आप को बता चुके है SSL Certificate के जरिये ही वैबसाइट को Security दी जाती है । लेकिन अब उन लोगो की बात कर रहे जो website होस्ट करते है ।

लेकिन उनका वैबसाइट Secure नही है । अगर आप अपना वैबसाइट को Secure करना है तो आप जहा से अपना hosting खरीदे है वहा से आप इसे खरीद सकते है । hosting देने वाले इसे अपने hosting service के साथ SSL Certificate फ्री मे भी प्रोवाइड कराते है ।

अगर आप को Hoster से नही मिलता है तो आप फ्री मे अपने वैबसाइट को Http से Https पर redirect कर सकते है इसके लिए आप एक वैबसाइट के बारे मे बता दे रहे वहा से आप अपने वैबसाइट जो secure कर सकते है । जिसका नाम है Cloud flare।

How Identify Secure Connection और Unsecure Connection

अगर आप को पहचान करना है की कौन सा Connection Secure है कौन सा unsecure तो आप इसे बार मे Symbol के साथ इसके बारे मे पूरी जानकारी बता रहा हु ।

What is SSL Certificate
Connection Secure Symbol

Point No.: 1. की बात करे तो ये आप के वैबसाइट लिंक Connection को Secure बताता है ये Symbol आप को Website के Left Corner जागा Address बार होता है वह आप को शो होगा । यहा आप को https शो होगा ।

Point No.: 2. की बात करे तो इसका मतलब जो भी आप इस वैबसाइट पर अपनी जानकारी को उस Website के साथ साझा कर रहे उस जानकारी को कोई और उस जानकारी को बदल या देख सकता है । और ये Connection Secure नही है । यहा आप को http शो होगा ।

Point No.: 3. की बात करे तो ये secure नही है और ये आप के घातक हो सकता है । google ऐसे वैबसाइट पर विजिट करने से मना करता है । ये बिलकुल Unsecure है ।

तो आप ऐसे website को अभी विजिट ना करे । खास तौर से जब आप को कोई form या Payment जैसे काम करना होगा । जहा आप अपनी निजी जानकारी को सबमिट करते हो ।

What is website and original website किसे कहते है ।

उपरोक्त बतो के जरिये आप को website के Secure और unsecure के बारे मे पूरी जानकारी साझा किया हु ऊमीद करता हु आप को कुछ सीखने को जरूर मिला होगा ।

तो चलिए अब बात करते है website क्या है ? तो इसके बार मे आसान शब्दो मे बात करे तो इसका मतलब वो स्थान जहा कोई भी डाटा को ऑनलाइन रख सके और जरूर के अनूशार ऑनलाइन ही एक्सेस कर सके । मतलब जहा आप अपनी सभी जानकारी को किसी ऐसे स्थान पर रखते है जहा से दुनिया का कोई भी व्यक्ति इसे एक्सेस कर सके ।

लेकिन अगर ऑनलाइन डाटा स्टोरेज की बात करे बात करे मतलब website पर जो भी डाटा को Upload किया जाता है वो कहा स्टोर होता है तो सिका जबाब दूसरा होगा ।

लेकिन website जो वर्ड वाइड वेब एक्सैस किया जा सके website को एक्सैस करने के लिए एक विशेष लिंक होता है । जिसके जरिये उस वैबसाइट को एक्सैस करते है ।

एक शब्द आता है Original website तो इसके बारे मे बात करे अगर कोई भी संस्था अपनी वैबसाइट के जरिये कोई काम करती है या वो offline भी है तो इसके नजर से देखे की जो संस्था offline है क्या वो online भी काम करता है ।

तो अगर करता है तो उस website पर उस संस्था की पूरी जानकारी रहेगा । लेकिन अभी ऐसा भी होता है । संस्था ऑफलाइन काम करती है लेकिन उसका कोई ऑनलाइन सिस्टम नही है । तो आप इस बात से समझ सकते है ये वैबसाइट गलत है उस संस्था का नही है ।

Note : किसी भी website पर विजिट करने से पहले आप उसके बारे मे जरूर जाने उसके बाद आप उस पर लॉगिन हो । नही तो आप को नुकसान हो सकता है ।

अगर आप को उपरोक्त बतो से सीखने को मिला हो तो Comment करके बताए और अपने दोस्तो के पास share करे । उनके जानकारी को बढ़ाए और ऑनलाइन मे बढ़ रहे cyber crime से बचाए ।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
loading...